Menu

Dosti Shayari

Friendship Shayari

दुनियादारी में हम थोड़े कच्चे हैं…

दुनियादारी में हम थोड़े कच्चे हैं;
पर दोस्ती के मामले में सच्चे है;
हमारी सच्चाई बस इस बात पर कायम है;
कि हमारे दोस्त हमसे भी अच्छे हैं!
Dosti Shayari

आपकी दोस्ती की एक नज़र चाहिए…

आपकी दोस्ती की एक नज़र चाहिए,
दिल है बे-घर उसे एक घर चाहिए,
बस यूँही साथ चलते रहो, ऐ दोस्त,
यह दोस्ती हमें उम्र भर चाहिए.
Dosti Shayari

यादों के सहारे दुनिया नही चलती…

यादों के सहारे दुनिया नही चलती,
बिना किसी शायर के महफ़िल नही बनती,
एक बार पुकारो तो आए दोस्तों,
क्यों की दोस्तों के बिना ये धड़कने नही चलती.
Dosti Shayari

तारों में अकेले चाँद जगमगाता है…

तारों में अकेले चाँद जगमगाता है,
मुश्किलों में अकेला इन्सान डगमगाता है,
काँटों से मत घबराना मेरे दोस्त,
क्योंकि काँटों में ही एक गुलाब मुस्कुराता है.
Dosti Shayari

हम वो नही जो गमो मे छोड दे…

हम वो नही जो गमो मे छोड दे,
हम वो नही जो नाता तोड दे,
हम तो वो हम सफर है मेरे दोस्त,
अगर आपकी सासे रूक जाये तो अपनी सासे छोड दे.

चाहत वो नहीं जो जान देती है…

चाहत वो नहीं जो जान देती है,
चाहत वो नहीं जो मुस्कान देती है,
ऐ दोस्त चाहत तो वो है,
जो पानी में गिरा आंसू पहचान लेती हैं.

तेरी दोस्ती की आदत सी पड़ गयी है मुझे…

तेरी दोस्ती की आदत सी पड़ गयी है मुझे,
कुछ देर तेरे साथ चलना बाकी है।
शमसान मैं जलता छोड़ कर मत जाना,
वरना रूह कहेगी कि रुक जा,
अभी तेरे यार का दिल जलना बाकी है।

नफरत को हम प्यार देते है…

नफरत को हम प्यार देते है,
प्यार पे खुशियाँ वार देते है,
बहुत सोच समझकर हमसे कोई वादा करना..
ऐ-दोस्त.. हम वादे पर जिदंगी गुजार देते है!!

गम को बेचकर खुशी खरीद लेगे…

गम को बेचकर खुशी खरीद लेगे,
ख्याबो को बेचकर जिन्दगी खरीदलेगें,
होगी इम्तहान तो देखेगी दुनिया,
खुद को बेचकर आपकी दोस्ती खरीद लेगे!!

इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है…

इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है,
इश्क मेरी रुह तो दोस्ती मेरा ईमान है,
इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी,
पर दोस्ती पर मेरा इश्क भी कुर्बान है!!