Menu
Dard Bhari Shayari

पलकों में आँसू और दिल में दर्द सोया है…

पलकों में आँसू और दिल में दर्द सोया है,
हँसने वालो को क्या पता रोने वाला किस कदर रोया है,
ये तो बस वोही जान सकता है, मेरी तन्हाई का आलम,
जिसने ज़िंदगी में, किसी को पाने से पहले खोया हो…

Dard Bhari Shayari

आसुओ को पलकों में लाया न कीजिये…

आसुओ को पलकों में लाया न कीजिये,
दिल की बात हर किसी को बताया न कीजिये,
मुट्ठी में नमक लेकर गुमते है लोग,
अपने ज़ख़्म हर किसी को दिखाया न कीजिये.

Dard Shayari

बहुत चाहा उसको जिसे हम पा न सके…

बहुत चाहा उसको जिसे हम पा न सके,
ख्यालों में किसी और को ला न सके.
उसको देख के आंसू तो पोंछ लिए,
लेकिन किसी और को देख के मुस्कुरा न सके…

Dard Shayari

लिखो तो पैगाम कुछ ऐसा लिखो की…

लिखो तो पैगाम कुछ ऐसा लिखो की,
कलम भी रोने को मजबूर हो जाये,
हर लफ्ज में वो दर्द भर दो की,
पढने वाला प्यार करने पर मजबूर हो जाये.

Dard Shayari

जिनकी याद में हम दीवाने हो गए…

जिनकी याद में हम दीवाने हो गए,
वो हम ही से बेगाने हो गए,
शायद उन्हें तालाश है अब नये प्यार की,
क्यूंकि उनकी नज़र में हम पुराने हो गए.

Bewafa Shayari

जिस किसीको भी चाहो वोह बेवफा हो जाता है…

जिस किसीको भी चाहो वोह बेवफा हो जाता है,
सर अगर झुकाओ तो सनम खुदा हो जाता है,
जब तक काम आते रहो हमसफ़र कहलाते रहो,
काम निकल जाने पर हमसफ़र कोई दूसरा हो जाता है…

Bewafa Shayari

मुहब्बत में क्यों वेब्फ़ाइ होती है…

मुहब्बत में क्यों वेब्फ़ाइ होती है,
सुना था प्यार में गहराई होती है,
टूट कर चाहने वाले के नसीब में,
क्यों सिर्फ फिर तन्हाई होती है.

Bewafa Shayari

इस कदर हम यार को मनाने निकले…

इस कदर हम यार को मनाने निकले,
उसकी चाहत के हम दिवाने निकले,
जब भी उसे दिल का हाल बताना चाहा,
उसके होठों से वक़्त न होने के बहाने निकले.

Love Shayari

होती नहीं है मोहब्बत सूरत से…

होती नहीं है मोहब्बत सूरत से,
मोहब्बत तो दिल से होती है,
सूरत उनकी खुद-ब-खुद लगती है प्यारी,
कदर जिनकी दिल में होती है!

Love Shayari

रूठी जो ज़िन्दगी तो मना लेंगे हम…

रूठी जो ज़िन्दगी तो मना लेंगे हम,
मिले जो गम वो सह लेंगे हम,
बस आप रहना हमेशा साथ हमारे तो,
निकलते हुए आंसुओं में भी मुस्कुरा लेंगे हम!