Menu
Dosti Shayari
हम वो नही जो गमो मे छोड दे,
हम वो नही जो नाता तोड दे,
हम तो वो हम सफर है मेरे दोस्त,
अगर आपकी सासे रूक जाये तो अपनी सासे छोड दे.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *